Confusion over NPS Scheme in Government Employee

इस आर्टिकल में हम आपको कुछ जानकारियों से अवगत करायेगें‚ जिनके सम्बन्ध में सरकारी कर्मचारियों के मध्य बहुत सी भ्रान्तियां अथवा गलतफहमियां (Confusion over NPS Scheme in Government Employee) बनी रहती हैं।

National Pension Scheme एक  नयी Retirement Scheme है‚ जो 01 जनवरी 2004 एवं उसके बाद से नियुक्ति सरकारी कर्मचारियों को Old pension Scheme के स्थान पर  दी गयी है।

जब से यह Scheme Introduce हुई है‚ तब से ही इसके नियम भी आये दिन बदलाव होते रहते हैं | जिसके कारण कर्मचारिेयों एवं निवेशकों (या फिर वह लोग जो निवेश करने की सोच रहे हैं) को National Pension Scheme के सम्बन्ध में कुछ न कुछ भ्रम (doubts) होना स्वाभाविक है|

Read This:- National Pension System: A Guide On Retirement Planning

* संपूर्ण पूूंजी Share Market (equity) में निवेशित होती है।

NPS Scheme के सम्बन्ध में सबसे बड़ी गलतफहमी (Confusion) यह है कि इसमे जमा की गयी सम्पूर्ण धनराशि Share Market (equity) में निवेशित होने के कारण जमा धनराशि में से बड़ा हिस्सा शेयर मार्केट में घाटे के कारण खम्त हो सकता है‚ जो कि यह सच नहीं है।

सरकारी क्षेत्र के निवेशकों (Tier-1 Account धारक कर्मचारियों) के लिए Share Market (equity) निवेश की सीमा 15% है। अन्य ग्राहकों (Tier-2 NPS Account धारक नागरिकों के मॉडल, All Citizens model) के लिए Share Market (equity) निवेश की सीमा 50%-75% है। जिसे आप अपनी इच्छानुसार इक्विटी में कम भी निवेश कर सकते हैं|

Read This:- What is NPS Scheme ?

* NPS में कितना ब्याज (interest) मिलता है?

कर्मचारियों के द्वारा NPS में जो धनराशि निवेश की जाती है‚ उस पर किसी प्रकार का कोई निश्चित ब्याज नहीं मिलता है । निवेशित धनराशि पर Mutual Fund की भॉति  रिटर्न मिलेगा| जो कभी उम्मीद से ज्यादा व कभी कम भी हो सकता है‚ लेकिन प्रायः देखा जाता है कि लम्बी अवधि पर निवेशित धनराशि पर सदैव एक अच्छा रिटर्न ही मिलता है।

इससे बिल्कुल स्पष्ट है कि NPS में रिटर्न की कोई गारंटी नहीं है और न ही NPS में किसी प्रकार का निश्चित ब्याज मिलता है|

* NPS पूर्व की भॉति पेंशन प्रदान करता है।

  • NPS Scheme आपकी पूंजी जमा करने में सहयोग करता है ।
  • यह जमा पूंजी अथवा धनराशि कर्मचारी के Retirement के समय चुनी गयी  Fund Manager  कंपनी से वार्षिकी योजना Annuity Plan या Pension Scheme खरीदने के लिए उपयोग की जाती हैं।
  • कर्मचारी द्वारा चयनित की गया Fund Manager वार्षिकी आय प्रदान करने में किसी प्रकार का सहयोग प्रदान नहीं करता है।

Fund Manager द्वारा पेंशन दी जायेगी।

National Pension Scheme में निवेश होने वाला धनराशि कर्मचारी द्वारा चयनित किये गये Fund Manager की Pension Scheme में जमा किया जाता है। Fund Manager अपने Research के अनुसार Pension Scheme में धनराशि को निवेशित करता है‚ जो Share Market, Government Bonds एंव Debt में निवेशित होती है‚ जिसमें प्राप्त Return के अनुसार ही आपकी मासिक किस्त (Pension) का भुगतान करता है। यह मासिक किस्त (Pension) प्रत्येक माह बदल सकती है‚ इससे स्पष्ट है कि एनपीएस में स्थायी रिटर्न की कोई भी गारंटी नहीं है।

कर्मचारी के Retirement तक प्रत्येक माह कर्मचारी के कुल वेतन का 10 प्रतिशत धनराशि NPS Account (PRAN Number) में जमा होता है एवं कुल वेतन का 14 प्रतिशत के बराबर की धनराशि केन्द्र सरकार या राज्य सरकार (कर्मचारी की नियुक्ति के अनुसार द्वारा जमा किये जाते हैं। जमा की गयी धनराशि Share Market, Government Bonds एंव Debt में निवेशित होती है।

कर्मचारी की सेवानिवृत्ति के समय उसके  NPS Account (PRAN Number) जमा कुल ध्रनराशि के कम से कम 40% को LIC, SBI, UTI में से किसी एक Fund Manager की Pension Scheme में जमा किया जोयगा।। शेष बची राशि को वह कर्मचारी एकमुश्त या फिर 70 साल की आयु तक 10 वार्षिक किश्तों में निकाल सकता हैं|

आज आपने क्या सीखा ?

आज हमने यहॉ बिन्दुवार तरीके से National Pension Scheme उन बिन्दुओं पर चर्चा की है जिनके सम्बन्ध में कर्मचारियों के मध्य बहुत सी भ्रान्तियां अथवा गलतफहमियां (Confusion over NPS Scheme in Government Employee) बनी रहती हैं।  उम्मीद है आपको मेरी द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आई होगी और NPS Scheme से सम्बन्धित इस आर्टिकल में आपको कुछ नया सीखने को मिला होगा। आप सभी से आशा है कि इस आर्टिकल को Facebook‚ Twitter आदि में शेयर कर अयह जानकारी साझा करेंगें।

यदि आपको किसी भी प्रकार के Doubt हो तो आप मुझसे Comment एवं Email के माध्यम से पूछ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: